Roshan Singh_Asfaqulla Khan-NIS

मौत पर मुस्कुराने वाले Revolutionary रोशन सिंह

रोशन सिंह काकोरी कांड के चौथे शहीद थे। इनका जन्म 1894 में उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर जिले में हुआ था। ये मिडिल तक ही पढ़े थे, मगर इन्होंने प्राथमिक विद्यालय में...
Rajendra Nath Lahiri-NIS

A-Revolutionary-राजेंद्रनाथ लाहिड़ी

राजेंद्रनाथ लाहिड़ी एक नि:स्वार्थ क्रांतिकारी शहीद राजेंद्रनाथ लाहिड़ी का जन्म 1892 में बंगाल के पबना जिले (अब बांग्लादेश में) के मोहनपुर गांव में हुआ था।1905 में वह बनारस आए। जहां केंद्रीय हिंदू कॉलेज...
Great lord madhavadev

Great lord madhavadev-महान विभूति

Great Lord Madhavadev का जन्म लेटकुपुखरी में सन 1489 के जेयष्ठ मास की अमावस्या रविवार को हुआ था। महापुरुष शंकरदेव के शिष्य Great lord Madhavadev विविध प्रतिभाओं से युक्त एक विराट...
Shankardev

Shrimanta Shankardev-महान विभूति भाग-4

Shrimanta Shankardev-महान विभूति के भाग-3 में आपने पढ़ा कि..... नामधर और सत्र असम के धार्मिक सामाजिक जीवन के मूलाधार हैं। धर्म और लोकतंत्र का पाठ पढ़ाने वाले संस्थान हैं। सत्रों की स्थापना...
Shankardev

Shrimanta Shankardev-महान विभूति भाग-3

Shankardev-महान विभूति के भाग-2  में आपने पढ़ा कि..... भक्ति के आचार्यों एवं कबीर आदि संतों से मिलने से उनके भक्त और कवि को नई दिशा प्राप्त हुई। तीर्थाटन से लौटकर Shankardev ने...
Shrimanta Shankardev 

Shrimanta Shankardev-महान विभूति भाग-2

Shankardev-महान विभूति के मुख्य भाग में आपने पढ़ा कि....... इसे भी पढ़ें:  http://northindiastatesman.com/shrimanta-shankardev/ Shankardev  की रचनाओं में बरगीतों का महत्वपूर्ण स्थान है। ये गीत असमिया काव्य की बहुमूल्य देन है। अब इसके आगे पढ़िए कि.......... Shankardev  द्वारा...

Shrimanta Shankardev-महान विभूति भाग-1

Shrimanta Shankardev-पूर्वोत्तर राज्य की महान विभूति के मुख्य भाग में आपने पढ़ा कि.....Shrimanta Shankardev को विशाल नदी में तैरना भी उनको प्रिय था। किंतु बाद में दादी की प्रेरणा से वे तेरह साल...

Shrimanta Shankardev-पूर्वोत्तर राज्य की महान विभूति

महापुरुष श्रीमंत शंकरदेव (Shrimanta Shankardev) सन 1449-1568 ई० में मुसलमानों के आक्रमण से पूर्व ही असम में भक्ति भावना पनप गई थी। भारत में प्रचारित भक्ति भावना से प्रभावित होकर असम में भी...

SARFAROSHI KI TAMANNA अब हमारे दिल में है

राम प्रसाद बिस्मिल (Ram Prasad Bismil) भारत के महान क्रान्तिकारी व अग्रणी स्वतंत्रता सेनानी ही नहीं, अपितु उच्च कोटि के कवि, शायर, अनुवादक, बहुभाषाभाषी, इतिहासकार व साहित्यकार भी थे जिन्होंने भारत...

सुखदेव, एक भोला-भाला क्रांतिकारी

भारत की आजादी के लिए हुई क्रांति में सुखदेव का विशेष स्थान है। लाहौर साजिश मामले में सुखदेव को भगत सिंह और राजगुरू के साथ दोषी करार दिया गया और तीनों...

MUST READ

MOST POPULAR