पंजाब

पंजाब में बेमिसाल तरक्की और खुशहाली के नये युग की शुरुआत करेगा श्री गुरु अमरदास थर्मल प्लांट – अरविन्द केजरीवाल और भगवंत सिंह मान

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने लोक कल्याण और विकास के एजंडे को राष्ट्रीय स्तर पर केंद्र में लाने के लिए ‘आप’ को मज़बूत करने के लिए लोगों के पूर्ण समर्थन और सहयोग की माँग की।

जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि आम लोगों को भारतीय राजनीति केंद्र में लाने का सेहरा अरविन्द केजरीवाल को जाता है। उन्होंने कहा कि अरविन्द केजरीवाल ने फूट डालने वाली राजनीति को नकार कर मानक राजनीति की शुरुआत करके राजनीति में सराहनीय बदलाव लाया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि यह बड़े गर्व और संतुष्टी की बात है कि बड़ी संख्या में लोग इस ऐतिहासिक मौके के गवाह बने हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रैली में लोगों का भरपूर समर्थन राज्य सरकार की जनहितैषी और विकास समर्थकीय नीतियों में उनके भरोसे को दिखाता है। उन्होंने कहा कि सरकारी जायदादें चहेतों को बेचने के रुझान के उलट पंजाब सरकार ने प्राईवेट प्लांट खरीदने का ऐतिहासिक फ़ैसला लिया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि वह दिन दूर नहीं, जब राज्य सरकार राज्य के बाकी बचे प्राईवेट थर्मल प्लांटों को खरीद लेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग अब परिवार बचाओ यात्रा के रास्ते पर चल रहे हैं, उन्होंने अपने लम्बे कार्यकाल के दौरान राज्य को लूटा है। उन्होंने कहा कि इन लोगों ने बेरहमी से राज्य को बर्बाद कर दिया, जिस कारण इनको सत्ता से बाहर किया गया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि लोग इन नेताओं के एक भी शब्द पर भरोसा नहीं करते, जिस कारण यह नेता हमारे साथ बैर रखते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पंजाब के लोग राज्य सरकार की लोक हितैषी नीतियों की हिमायत करते हैं, जिस कारण राज्य के हर समागम में बड़ी संख्या में लोग हाजिऱ होते हैं।

भगवंत सिंह मान ने कहा कि वह बहुत खुशकिस्मत हैं कि लोग उनके साथ हैं क्योंकि लोकतंत्र में लोग ही सर्वोच्च होते हैं। उन्होंने कहा कि विरोधी पक्ष ख़ासकर कांग्रेस और अकालियों ने लोगों का पूरा समर्थन गवां दिया है, जिस कारण वह गुमनामी के रास्ते पर चले गए हैं।

मुख्यमंत्री ने दोहराया कि रिवायती पार्टियाँ उनसे ईष्र्या करती हैं क्योंकि वह एक आम परिवार से सम्बन्धित हैं और लोगों की भलाई सुनिश्चित बनाने के लिए अथक मेहनत कर रहे हैं। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इन नेताओं को हमेशा यह विश्वास था कि उनके पास शासन करने का ईश्वरीय अधिकार है, जिस कारण उनको यह हज़म नहीं हो रहा कि एक आम आदमी राज्य को कुशलता से चला रहा है। उन्होंने कहा कि इन नेताओं ने लम्बा समय लोगों को मूर्ख बनाया, परन्तु अब लोग इनके गुमराह करने वाले प्रचार में नहीं आऐंगे।

मुख्यमंत्री ने व्यंग्य कसते हुए कहा कि पहले उद्योगपति सत्ता में रहने वाले परिवारों के साथ समझौतों पर दस्तखत करते थे परन्तु जब से उन्होंने कार्यभार संभाला है, राज्य के लोगों के लिए समझौतों पर दस्तखत किए जाते हैं।

उन्होंने कहा कि पहले समृद्ध परिवारों को इन समझौतों का लाभ मिलता था परन्तु अब पंजाबियों को इसका लाभ मिलेगा। भगवंत सिंह मान ने कहा कि ऐसा इसलिए है क्योंकि सरकार समाज के हरेक वर्ग की भलाई के लिए अथक मेहनत कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार शहीद भगत सिंह और अन्य महान स्वतंत्रता सेनानियों की आशाओं को पूरा करने के लिए पहले ही हर संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की जनहितैषी और विकास समर्थकीय नीतियों का मंतव्य इन महान राष्ट्रीय नेताओं के सपनों को साकार करना है।

भगवंत सिंह मान ने कहा कि लोक कल्याण योजनाओं का लाभ निचले स्तर तक लोगों तक पहुँचाने के लिए हर संभव प्रयास किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा आम आदमी की भलाई के लिए लिए गए सभी जनहितैषी फ़ैसले केंद्र सरकार को हज़म नहीं हो रहे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत आम आदमी क्लीनिकों के लिए फंड रोके गए हैं और केंद्र सरकार द्वारा राज्य को ग्रामीण क्षेत्रों में सडक़ें बनाने से रोकने के लिए 5500 करोड़ रुपए के ग्रामीण विकास फंड भी रोक दिए गए हैं।

भगवंत सिंह मान ने कहा कि अगर यह फंड जारी कर दिए जाएँ तो राज्य सरकार पंजाब के विकास को और अधिक बढ़ावा दे सकती है।
मुख्यमंत्री ने लोगों को आह्वान किया कि आगामी लोक सभा मतदान में ‘आप’ को पूर्ण समर्थन और सहयोग दें। उन्होंने कहा कि यह लोगों और राज्य के मुद्दों को प्रभावशाली ढंग से उठाने में मदद करेगा।

भगवंत सिंह मान ने कहा कि पंजाब को देश का अग्रणी राज्य बनाने के लिए लोगों का सहयोग बहुत ज़रूरी है।

मुख्यमंत्री ने अफ़सोस प्रकट किया कि हरियाणा सरकार राज्य के किसानों को रोकने के लिए कँटीली तार लगा रही है। उन्होंने कहा कि पंजाब और भारत के दरमियान दरार पैदा करने के इस रुझान से बचना चाहिए क्योंकि यह देश के हित में नहीं है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि किसानों के मसले बातचीत के द्वारा हल किए जाने चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देश में खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित बनाना ज़रूरी है। उन्होंने कहा कि किसानों को दिल्ली जाने से रोकने के लिए कँटीली तार लगाने वालों को याद रखना चाहिए कि देश को पंजाब से ही चावलों की ज़रूरत है।

भगवंत सिंह मान ने कहा कि किसान देश की रीढ़ की हड्डी हैं और उनके साथ सौतेली माँ वाला सुलूक नहीं किया जाना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने महान शहीदों की झाँकी को रद्द करके शहीद भगत सिंह, शहीद राजगुरू, शहीद सुखदेव, लाला लाजपत राय, शहीद उधम सिंह, शहीद करतार सिंह सराभा, माई भागो, गदरी बाबियां समेत अन्य शहीदों और महान नेताओं का अपमान किया है।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने गणतंत्र दिवस की परेड में इस झाँकी को शामिल न करके इन नायकों के योगदान और बलिदान का निरादर किया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि इसको बर्दाश्त नहीं किया जा सकता क्योंकि यह इन महान देश-भक्तों और राष्ट्रीय नेताओं का घोर अपमान है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अब राज्य भर में यह झाँकी दिखाकर इन नायकों के कीमती योगदान को सजदा किया है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पिछले 75 सालों में पहली बार राज्य सरकार ने प्राईवेट पावर प्लांट खरीदा है। उन्होंने कहा कि यह प्लांट राज्य सरकार द्वारा सस्ते भाव पर खरीदा गया है।

अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि राज्य सरकार ने 5500 करोड़ रुपए का यह प्लांट केवल 1100 करोड़ रुपए की कीमत पर खरीदा है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 90 फीसदी घरों को पहले ही मुफ़्त बिजली मिल रही है और इस प्लांट के साथ अब अन्य सैक्टरों को भी सब्सिडी आधारित बिजली मिलेगी।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा शनिवार को घर-घर मुफ़्त राशन योजना शुरू की गई है, जो देश से राशन माफिया को ख़त्म करने के लिए अहम कदम साबित होगा। अरविन्द केजरीवाल ने दोहराया कि पिछले 75 सालों से कभी भी पी.डी.एस. के द्वारा राशन लाभार्थियों तक नहीं पहुँचा।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे पहले अगर 100 किलो राशन आता था तो केवल 15 किलो ही लोगों तक पहुँचता था और यह दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि किसी ने भी राशन की चोरी की जांच नहीं की।

अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि आम आदमी के लिए आने वाले राशन को राजनीतिक पार्टियों और उनके नेताओं ने लूटा है। उन्होंने कहा कि अब वह दिन दूर नहीं, जब लोगों को देश भर में राशन की निर्विघ्न और सुचारू डिलीवरी मिलेगी।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने राज्य में विभिन्न जनहितैषी योजनाओं के 8000 करोड़ रुपए रोकने के लिए केंद्र सरकार की निंदा की। उन्होंने कहा कि यह राज्य के साथ सरासर बेइन्साफ़ी है, जिसको बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार आम आदमी पार्टी की मकबूलियत से डरती है, जिस कारण वह हमारे कामकाज में काँटे बिछाने के लिए निम्र दर्जे की राजनीति कर रही है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ‘आप’ को बदनाम करने के लिए हर समय चालें चल रही है क्योंकि वह डरती है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार विरोधी पक्ष ख़ासकर ‘आप’ को तोडऩे के लिए केंद्रीय एजेंसियों का प्रयोग कर रही है। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि जब तक जनता ‘आप’ पार्टी के साथ है और ईश्वर का आशीर्वाद है तो हमें किसी का डर नहीं।

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को ऐसे दोगले नेताओं को उपयुक्त जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों को यह जवाब देना चाहिए कि उनको मुफ़्त बिजली देने वाले चोर नहीं, बल्कि चोर वह हैं, जो महँगी बिजली देकर लोगों को लूटते हैं।

अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि देश की तरक्की का अंतिम लक्ष्य लोगों के सहयोग के साथ ही हासिल किया जाएगा।

राज्‍यों से जुड़ी हर खबर और देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए नार्थ इंडिया स्टेट्समैन से जुड़े। साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप को डाउनलोड करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button

sbobet

https://www.baberuthofpalatka.com/

Power of Ninja

Power of Ninja

Mental Slot

Mental Slot