विविध

जदयू नेताओं की चेतावनी को Sharad Yadav ने खारिज किया

मुजफ्फरपुर (बिहार)। जदयू के वरिष्ठ नेता Sharad Yadav ने बिहार में महागठबंधन से अलग होने और भाजपा के साथ सरकार बनाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की आलोचना किए जाने की वजह से अपने खिलाफ कार्रवाई किए जाने की जदयू के कुछ नेताओं की चेतावनी को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि वह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के खिलाफ खड़े हुए थे और उन्हें किसी का डर नहीं है। राज्यसभा में जदयू संसदीय दल के नेता यादव ने कहा ‘‘कुछ पार्टी नेता मुझे डरा रहे हैं….. और जो मेरा पक्ष ले रहे हैं…. मैंने इंदिरा गांधी का सामना किया और डरा नहीं। वे कौन होते हैं मुझे डराने वाले?’’ नीतीश कुमार के फैसले के खिलाफ अपना विरोध सार्वजिनक करने वाले यादव बिहार की अपनी ‘‘संवाद यात्रा’’ के दूसरे दिन लोगों को संबोधित कर रहे थे। जदयू के पूर्व सांसद अर्जुन राय और पूर्व पार्टी विधायक रमई राम उनके साथ थे। लेकिन दरभंगा और मधुबनी जाते समय पूरे रास्ते की बैठकों में राजद कार्यकर्ताओं और समर्थकों की भीड़ थी। पूर्व जदयू अध्यक्ष यादव ने स्पष्ट किया कि उनके और नीतीश कुमार के बीच समझौते की गुंजाइश नहीं है। भाजपा के साथ गठबंधन सरकार बनाने के नीतीश के फैसले को यादव ‘‘जनता के विश्वास के साथ किया गया छल’’ करार दे चुके हैं।

उन्होंने साफ कहा था ‘‘मैं महागठबंधन के साथ हूं…. सरकारी जदयू नीतीश कुमार के साथ है और असली पार्टी मेरे साथ है।’’ नीतीश कुमार और उनके समर्थकों का कहना है कि भ्रष्टाचार को कतई बर्दाश्त न करने की अपनी नीति को बरकरार रखने के लिए वह जदयू, राजद और कांग्रेस के महागठबंधन से अलग हुए हैं। इस पर यादव ने कहा ‘‘मैंने कई बार भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाई है चाहे वह टूजी घोटाला हो, या राष्ट्रमंडल घोटाला हो, हवाला हो या आसाराम बापू का मामला हो।’’ जदयू नेताओं का कहना है कि वह भ्रष्टाचार को लेकर राजद से कोई समझौता नहीं करेंगे। इस पर यादव ने कहा ‘‘लालू प्रसाद भ्रष्टाचार के आरोप में जेल गए हैं। तब किन परिस्थितियों में (वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव के लिए) उनके साथ गठबंधन किया गया था।’’ यादव ने कहा कि बिहार से शुरू हुई उनकी संवाद यात्रा देश के अन्य हिस्सों में भी जाएगी। जदयू के नेता यादव की यात्रा से दूरी बनाए हुए हैं और धीरे धीरे उनके स्वर यादव के प्रति कठोर होते जा रहे हैं। जदयू की राज्य इकाई के प्रवक्ता नीरज कुमार ने यादव पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे, लालू के बेटों तेजस्वी और तेज प्रताप के ‘‘राजनीतिक चाचा’’ बन गए हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी सही समय पर यादव के खिलाफ समुचित कार्रवाई करेगी।

राज्‍यों से जुड़ी हर खबर और देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए नार्थ इंडिया स्टेट्समैन से जुड़े। साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप को डाउनलोड करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button

sbobet