उत्तर प्रदेश

बेटे-बहू ने नौकर के साथ मिलकर किया था सर्राफा व्यापारी का कत्ल, बेटी ने शोर मचाने की कोशिश की तो उसे भी मार डाला

अमरोहा : नगर कोतवाली क्षेत्र के एक मोहल्ले में ज्वैलरी कारोबारी और उसकी बेटी की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. घटना शुक्रवार की रात हुई थी. शनिवार की सुबह कमरे से दोनों के शव बरामद किए गए थे. पुलिस ने रविवार को डबल मर्डर का चौंकाने वाला खुलासा किया. कारोबारी की बेटे और बहू ने जायदाद को लेकर नौकर के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था. पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.

एसपी कुंवर अनुपम सिंह ने बताया कि अमरोहा नगर के मोहल्ला कटरा गुलाम अली के रहने वाले योगेश चंद्र सर्राफा व्यापारी थे. उनका नाम शहर के संपन्न परिवारों में शुमार था. योगेश ने साले की बेटी सृष्टि को गोद लिया था. योगेश का बेटा इशांक दिल्ली में गत्ता फैक्ट्री चला रहा था. वह और उसकी पत्नी मानसी दिल्ली में ही रह रहे थे. दोनों घर आते-जाते रहते थे. सृष्टि पीसीएस की तैयारी कर रही थी. योगेश ने घर में खाना बनाने के लिए मेड भी लगा रखा था, जिससे बेटी को पढ़ाई-लिखाई में कोई दिक्कत न हो. सुरक्षा के लिहाज से योगेश ने घर में 15 सीसीटीवी कैमरे लगा रखे थे. जिस दिन योगेश और उनकी बेटी सृष्टि की हत्या हुई उस दिन सभी कैमरे बंद थे. वारदात से 2 दिन पहले ही उनका बेटा और उनके बहू घर पर आए थे.

बेटे-बहू ने पुलिस के सामने रोने का किया था नाटक : रोज की तरह योगेश शुक्रवार की रात 10 बजे दुकान बंद करने के बाद अपने घर पर चले आए थे. रात में 11 बजे सभी नहीं एक साथ खाना खाया. योगेश का बेटा इशांक और बहू मानसी ऊपर के कमरे में सोने चले गए. जबकि योगेश और उनकी बेटी सृष्टि नीचे के कमरे में सोए थे. सुबह कमरे में दोनों की खून से सनी लाश मिली. अमरोहा एसपी कुंवर अनुपम सिंह ने टीम के साथ मौके पर पहुंचकर जांच-पड़ताल की. इस दौरान ऊपर से बहू और बेटा आए तो वे तो रोने ने लगे. कहने लगे कि रात में साथ में सबने खाना खाया था. इसके बाद पता नहीं क्या हो गया. एसपी ने घटना के खुलासे के लिए एसओजी टीम गठित की थी.

एक महीने पहले बनाई थी हत्या की योजना : पुलिस की जांच में बेटे और बहू पर ही शक गहरा रहा था. पुलिस ने बेटे इशांक को हिरासत में ले लिया. इसके बाद सख्ती से पूछताछ की तो उसने सारा राज उगल दिया. इशांक अमरोहा की संपत्ति बेचकर पूरी तरह दिल्ली में सेटल होना चाहता था. योगेश इसमें बाधक बन रहे थे. इसके अलावा योगेश ने मकान का आधा हिस्सा सृष्टि के नाम कर दिया था. इससे इशांक और मानसी नाराज चल रहे थे. बेटे ने आरोप लगाया कि उसके पिता मुस्लिम महिला से शादी करने की फिराक में थे. इसी को लेकर करीब एक महीने पहले हत्या की योजना बनाई गई थी. इसके बाद बेटे-बहू ने नौकरी के साथ मिलकर योगेश को मार डाला. वारदात के दौरान सृष्टि पहुंच गई. वह शोर मचाने की कोशिश कर रही थी. इस पर आरोपियों ने उसे भी मार डाला. पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. हत्या में इस्तेमाल हथियार भी बरामद कर लिए गए हैं.

राज्‍यों से जुड़ी हर खबर और देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए नार्थ इंडिया स्टेट्समैन से जुड़े। साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप को डाउनलोड करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button

sbobet