Take a fresh look at your lifestyle.
Browsing Tag

Panchatantra

PanchTantra की कहानी-बेकार का पचड़ा-भाग-8

पंचतंत्र के बेकार का पचड़ा भाग-7 में आपने पढ़ा कि …….. जो कुछ उस समय मैंने सुना और जाना था उसका सारांश मैं तुम्हें बताता हूॅ। कम से कम इसे तो गांठ बांध ही लो। दमनक (Damanak) बोला, यह दुनिया ऐसी है जिसमें जिधर देखो, उधर सोने के फूल खिले हैं।…

PanchTantra की कहानी-बेकार का पचड़ा-भाग-7

पंचतंत्र के बेकार का पचड़ा भाग-6 में आपने पढ़ा कि —........ करटक एक-एक कदम फूंक-फूंक कर रखने वालों में था। वह किसी काम में जल्दी नहीं करता था और पूरी बात समझे बिना कुछ करने को तैयार ही नहीं होता था। बोला, तुमने यह कैसे जान लिया कि इस समय वह…