Amit Shah
Amit Shah

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह केरल में हो रही राजनीतिक हिंसा के लिए माकपा पर खूब बरसे और उन्हों‍ने कहा कि “हिंसा की राजनीति” वामपंथियों के स्वभाव में ही है। केरल में “वाम नृशंसता” को अंकित करने के लिए भाजपा के अभियान ‘जन रक्षा यात्रा’ की दिल्ली इकाई को संबोधित करते हुए शाह ने इस बात पर जोर दिया कि डराने-धमकाने की कोई भी सीमा, वाम-शासित राज्य में कमल (भाजपा का चुनाव चिन्ह्) को खिलने से रोक नहीं सकती।

उन्होंने केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि ज्यादातर भाजपा और आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या उनके गृह जिले में हुई है। शाह ने कहा, “केरल में जब से वाम दल सत्ता में आया है, तब से अनेक भाजपा और संघ (आरएसएस) कर्मचारियों की हत्या हुई है। यह हत्याएं बेहद नृशंस तरीके से की गई हैं, शवों को टुकड़ों में काटा गया है। यह उन लोगों को धमकाने के लिए किया गया है जो भाजपा का समर्थन करते हैं, यह बताने के लिए कि उनके साथ भी ऐसा ही किया जाएगा। पर वह हत्या का जितना गंदा खेल खेलेंगे, कमल उतना ही बेहतर खिलेगा।

इसके अलावा शाह के नेतृत्व में मध्य दिल्ली के कनाट प्लेस से गोल मार्केट इलाके में माकपा मुख्यालय तक एक जुलूस भी निकाला गया। दिल्ली के भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी, केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कन्नथानम और पार्टी के लोक सभा सांसद इस जुलूस में शामिल थे। शाह ने केरल के कन्नूर जिले में तीन अक्तूबर से ‘जन रक्षा यात्रा’ की शुरुआत की जिसका समापन 17 अक्तूबर को तिरुवनंतपुरम में किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.