विविध

राहुल गांधी खुद मैदान छोड़कर भाग रहे हैं: भाजपा

नई दिल्ली। रोजगार के पर्याप्त अवसर पैदा नहीं कर पाने को 2014 में संप्रग सरकार की हार और नरेन्द्र मोदी के उभरने की वजह बताने के अमेरिका में दिये राहुल गांधी के बयान को लेकर निशाना साधते हुए भाजपा ने आज कहा कि वास्तव में राहुल गांधी खुद के लिये रोजगार तलाश रहे हैं और खुद मैदान छोड़कर भाग रहे हैं।

भाजपा महासचिव राम माधव ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘उन्हें दुनिया की यात्रा करने दें और पार्टी के लिये अभियान चलाने दें। हम भारत की चिंता कर लेंगे।’’ उन्होंने कहा कि उन्हें (राहुल) यात्रा करने के लिये कुछ और देश बचे हैं। वह मैदान छोड़कर भाग रहे हैं।

Bjp hits back at Rahul Gandhi over his statement in America
Bjp hits back at Rahul Gandhi over his statement in America
भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि कांग्रेस और राहुल गांधी राजनीतिक पाखंड का पर्यायवाची बन गए हैं। जो लोग देश की संस्कृति और संस्कार से अनभिज्ञ हैं, वे भी भारत की सांझी विरासत का दुनिया में मजाक उड़ाने का प्रयास कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि ऐसे लोग और राजनीतिक दल अपनी हताश मानसिकता के कारण देश की प्रगति पर पलीता लगाने का प्रयास कर रहे हैं, जो कई दशकों से देश को जाति, धर्म एवं सम्प्रदाय के नाम पर लोगों का राजनीतिक शोषण करने में यकीन करते रहे हैं।
भाजपा के वरिष्ठ राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि राहुल गांधी देश में जनता द्वारा खारिज किये जाने पर विदेश में भारत की नकारात्मक तस्वीर पेश कर रहे हैं। वे इस बात को भूल रहे हैं कि मोदी सरकार की मुद्रा योजना, स्टार्टअप एवं रोजगारपरक योजनाओं के जरिये नौजवानों के लिये भारी मात्रा में स्वरोजगार का सृजन हुआ है।
उन्होंने कहा कि हमारी सरकार देश के नौजवानों को जॉब क्रिएटर (रोजगार सृजन करने वाला) बनाने पर जोर दे रही है, जॉब सिकर (रोजगार मांगने वाला) नहीं बनाना चाहती है। केंद्र सरकार की योजनाओं के तहत दूर दराज के युवाओं को ऋण प्राप्त हो रहे हैं और वे अपना स्वयं का रोजगार खड़ा कर रहे हैं। इससे अन्य लोगों को भी रोजगार के अवसर प्राप्त हो रहे हैं।
हुसैन ने कहा कि राहुल गांधी वास्तव में अपने लिये रोजगार की तलाश कर रहे हैं और उनका खुद का कोई ‘विजन’ नहीं है। उन्हें देश की गलत तस्वीर पेश करने की बजाए सकारात्मक राजनीति करनी चाहिए।
उल्लेखनीय है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने स्वीकार किया कि उनकी पार्टी पयार्प्त संख्या में रोजगार के अवसर पैदा नहीं कर सकी और यही 2014 में उनकी पार्टी की हार का कारण बना।
साथ ही उन्होंने कहा कि दुनिया में बेरोजगारी से लोग परेशान हैं और इसीलिए नरेंद्र मोदी और डोनाल्ड ट्रंप जैसे नेताओं को चुन रहे हैं।
प्रिंस्टन यूनीवर्सिटी में छात्रों के साथ बातचीत में राहुल कहा कि मैं सोचता हूं, मोदी का कद एक हद तक क्यों उभरा और ट्रंप के सत्ता में आने की वजह, अमेरिका और भारत में रोजगार का मुद्दा है।
हमारी बड़ी आबादी के पास कोई नौकरी नहीं है और उन्हें अपना भविष्य दिखाई नहीं दे रहा है। इसलिए वह परेशान हैं, और उन्होंने इस तरह के नेताओं का समर्थन दिया है।

राज्‍यों से जुड़ी हर खबर और देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए नार्थ इंडिया स्टेट्समैन से जुड़े। साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप को डाउनलोड करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button