कोई जरूरी तो नहीं कि बीबीसी और आप जैसी ही सारी संस्थायें ही इंग्लैण्ड में हों? हो सकता है कि कुछ अच्छी भी हों, लेकिन इतना तो सत्य है कि वो आपकी तरह फर्जी और बकवास टाइप की चीजें प्रस्तुत करके अपने देश की साख पर बट्टा तो नहीं लगा रहे हैं।

ncw-move
ncw-move

आप हैं इग्लैण्ड में लेकिन रेटिंग दे रहे हैं इण्डिया की? इंडिया की आबादी ही इतनी है कि सही सर्वे करेंगे तो आपकी जिन्दगी ही खत्म हो जायेगी। सवा सौ करोड़ की जनता से इन्होंने कब सर्वे किया और कब निष्कर्श निकाल लिया कि भारत सबसे खतरनाक देश है, महिलाओं के लिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.