A Symbol of Boldness.

उत्तराखंड के सैलाब में कई लोगों के बहने की आशंका, सरकार ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर

0
उत्तराखंड के चमोली जिले में धौली गंगा, जोशीमठ नदी में बड़े पैमाने पर बाढ़ के कारण रविवार को क्षेत्र में एक ग्लेशियर के टूटने की सूचना मिली। तपोवन क्षेत्र में ऋषिगंगा बिजली परियोजना को भी भारी बाढ़ ने नुकसान पहुंचाया है।
1.10 बजे: ITBP की दो टीमें मौके पर पहुंची हैं, NDRF की तीन टीमें देहरादून से रवाना की गई हैं और 3 अतिरिक्त टीमें शाम तक IAF हेलिकॉप्टर की मदद से वहां पहुंचेंगी। एसडीआरएफ और स्थानीय प्रशासन पहले से ही घटनास्थल पर है, “एमओएस होम नित्यानंद राय ने धौलीगंगा में बड़े पैमाने पर बाढ़ पर एएनआई को बताया।
सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्वीट किया, “भारी बारिश और अचानक पानी के कारण चमोली के रिनी गांव में ऋषिगंगा परियोजना को नुकसान पहुंचने की संभावना है। नदी में अचानक आने से अलकनंदा के निचले इलाकों में बाढ़ आने की भी संभावना है।” तटीय इलाकों में लोगों को अलर्ट कर दिया गया है। नदी के किनारे बसे लोगों को इलाके से हटाया जा रहा है।”
उन्होंनेदूसरे ट्वीट में लिखा एहतियातन भागीरथी नदी का फ्लो र%Aक दिया गया है। अलकनन्द%E का पानी का बहाव रोका जा सके इसलिए श्रीनगर डैम तथा ऋषिकेष डैम को खाली करवा दिया है। SDRF अलर्ट पर है। मेरी आपसे विनती है अफवाहें न फैलाएं। सरकारी प्रमाणिक सूचनाओं पर ही ध्यान दें। मैं स्वयं घटनास्थल के लिए रवाना हो रहा हूं।
एसडीआरएफ अलर्ट पर है। एसडीआरएफ अधिकारी ने कहा है कि  मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि अफवाह न फैलाएं। आधिकारिक प्रामाणिकता पर ध्यान दें। केवल जानकारी ही चैनलों पर चलाएं। चमोली पुलिस ने अलकनंदा नदी के किनारे रहने वाले लोगों को जल्द से जल्द सुरक्षित स्थान पर जाने की सलाह दी है।
हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है। सीएम ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर- 1070 और 9557444486
सूत्रों का कहना है कि जोशीमठ क्षेत्र से 26 किलोमीटर दूर रेनी गांव के पास कई लोगों के मारे जाने की आशंका है। बचाव के लिए सैकड़ों भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के जवान लगे हुए हैं।
सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी हालात का जायजा लिया है। उन्होंने ट्वीट किया, “चमोली जिले से एक आपदा की सूचना मिली है। जिला प्रशासन, पुलिस विभाग और आपदा प्रबंधन को इस आपदा से निपटने का आदेश दिया गया है। किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान न दें। सरकार सभी आवश्यक कदम उठा रही है।”
समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि चमोली के जिलाधिकारी ने अधिकारियों को धौलीगंगा नदी के किनारे बसे गांवों में रहने वाले लोगों को बाहर निकालने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More