panchatantra-King-Kartak-Damanak

PanchTantra की कहानी-बेकार का पचड़ा-भाग-9

पंचतंत्र के बेकार का पचड़ा भाग-8 में आपने पढ़ा कि …….. दमनक ने अब हंसते हुए कहा, एक बात याद रखो। जो सेवक सोचता है कि राजा (King) को रिझा लिया, अब...

PanchTantra की कहानी भाग—दो

PanchTantra के इससे पहले के भाग—एक में आप पढ़ चुके हैं कि—घनचक्कर, रंगा सियार, बेकार पचड़े में पडऩा, मगरमच्छ के आसूं,  नकली शेर, बाघ की खाल, ढ़ोल की पोल, बगुला भगत,...

PanchTantra की कहानी भाग-पांच

पिछले अंक में आपने पढ़ा कि.... सेकुलरिज्म पश्चिम के लिए नई अवधारणा हो सकती है। क्योंकि वहां धार्मिक जकड़बंदी इतनी कठोर रही है कि तनिक सी छूट को भी असह्य मान कर...
panchatantra-nis

PanchTantra-कान भरने की कला भाग-15

पिछले अंक के भाग-14 में आपने पढ़ा कि…………… उन्हें यह पता ही नहीं चल रहा था कि विष्णुशर्मा कहानियों के मधु में ज्ञान नामक गुडुची का सत भी मिलाते जा रहे हैं...
Panchtantra-Taktaka-3

PanchTantra-टका नहीं तो टकटका भाग-3

पिछले अंक, PanchTantra-टका नहीं तो टकटका भाग-2 में आपने पढ़ा कि………. व्यापार (Business) में गंधी का काम तो सोने चांदी के व्यापार (Business) से भी शानदार है। इसमें एक रुपए का तेल फुलेल बना...
panchtantra-Damanak

PanchTantra की कहानी-King & Damanak भाग-15

पंचतंत्र के बेकार का पचड़ा भाग-14 में आपने पढ़ा कि …….. Damanak देख रहा था कि उससे कुछ बेअदबी हो रही है पर इस समय उसकी बात का असर हो रहा था।...
king-pinglak

PanchTantra की कहानी-King-Pinglak भाग-13

पंचतंत्र के बेकार का पचड़ा भाग-12 में आपने पढ़ा कि …….. जब करटक ने भी हामी भर दी, दमनक उसे प्रणाम करके King-Pinglak की ओर चला। दमनक को अपनी ओर आते देख...
Panchatantra-Short-Stories

PanchTantra-कान भरने की कला भाग-11

पिछले अंक के भाग-10 में आपने पढ़ा कि…………… सचिवों को यह बात मालूम थी। राजकुमार जैसे थे वैसा बनाने में उनमें से कुछ का सहयोग भी था। वे चाहते थे कि राजा...
damanak-panchatantra

PanchTantra की कहानी-King & Damanak भाग-17

Damanak ने सच्चे सेवक की सेवा शर्तों में यह भी जोड़ दिया कि उसे न तो काम के समय भूख लगनी चाहिए, न प्यास, न सर्दी, न गर्मी, न थकान, न...
Panchatantra-King-8

PanchTantra की कहानी-बेकार का पचड़ा-भाग-8

पंचतंत्र के बेकार का पचड़ा भाग-7 में आपने पढ़ा कि …….. जो कुछ उस समय मैंने सुना और जाना था उसका सारांश मैं तुम्हें बताता हूॅ। कम से कम इसे तो गांठ...

MUST READ

MOST POPULAR