20.1 C
New York
June 19, 2019
MISCELLANEOUS

केरल उच्च न्यायालय ने अभिनेता Dileep की जमानत याचिका खारिज की

Dileep

कोच्चि। केरल उच्च न्यायालय ने जानी मानी दक्षिण भारतीय अभिनेत्री के अपहरण की साजिश रचने और उनसे यौन उत्पीड़न करने के आरोपों पर गिरफ्तार मलयालम अभिनेता Dileep को जमानत देने से इनकार कर दिया। न्यायमूर्ति सुनील थॉमस ने अभियोजन पक्ष के वकील की ओर से अभिनेता के खिलाफ बंद लिफाफे में पेश किये गये सबूतों पर गौर करने के बाद उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया।जमानत याचिका खारिज करते हुए अदालत ने कहा कि मामले में अब भी जांच चल रही है और हालातों में कोई बड़ा बदलाव (इससे पहले की जमानत याचिका से लेकर अब तक) दिखता प्रतीत नहीं हो रहा है। साजिश रचने के आरोपों में 10 जुलाई को गिरफ्तार किये जाने के बाद से अभिनेता ने दूसरी बार जमानत याचिका दायर की थी। अदालत ने अभियोजन पक्ष की उस दलील को भी माना कि अभिनेता एक बेहद प्रभावशाली व्यक्ति है और अगर उसे जमानत दी जाती है तो वह सबूतों के साथ छेड़छाड़ तथा गवाहों को प्रभावित कर सकता है। अदालत को यह बताया गया था कि मामले में जांच जारी है और मोबाइल फोन बरामद नहीं हुआ है। इसी आधार पर अदालत ने 24 जुलाई को दिलीप की जमानत याचिका खारिज कर दी थी। अभियोजन पक्ष ने उस मोबाइल फोन को मामले में बेहद अहम सबूत बताया था।जमानत याचिका का विरोध करते हुए अभियोजन पक्ष ने दलील दी कि घटना का वीडियो जिस मेमोरी कार्ड में रखा गया था उस वास्तविक मेमोरी कार्ड को अभी बरामद करना है। जांचकर्ता अभी भी फोन और मेमोरी कार्ड सहित अन्य सबूतों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं।

न्यायमूर्ति थॉमस ने अपने आदेश में कहा, ‘‘उपरोक्त तथ्य यह दर्शाते हैं कि जांच अब तक जारी है। हालातों में कोई अधिक बदलाव दिखता प्रतीत नहीं होता। सभी तथ्यों पर विचार करते हुए मैं याचिकाकर्ता को इस स्थिति में जमानत की मंजूरी नहीं दे सकता हूं।’’ अभिनेता ने अपनी हालिया याचिका में कहा था कि परिदृश्य अब पूरी तरह से बदल गया है और वह ना तो किसी आपराधिक साजिश का सरगना है या ना ही इसमें किसी तरह से उसकी भागीदारी है। उसने यह भी दलील दी कि वह किसी आपराधिक वारदात का साजिशकर्ता नहीं है। इससे पहले अंगामाली के पास स्थित मजिस्ट्रेट अदालत ने भी उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया था। दिलीप पर आपराधिक साजिश रचने सहित आईपीसी की विभिन्न अपराधों के तहत मामला दर्ज किया गया है। गिरफ्तारी के बाद उन्हें उनके गृहनगर अलुवा स्थित जेल में रखा गया है। पुलिस का दावा है कि 17 फरवरी को अभिनेत्री को अगवा कर चलती कार में उनका उत्पीड़न करने तथा इस घटना की फिल्म बनाने की साजिश दिलीप ने ही रची थी।

Related posts

उप्र में बूचड़खाने बंद होने से BakrEid पर कुर्बानी को लेकर भ्रम की स्थिति

NIS Digital Team

Indian Army ने सैन्य कर्मियों को पदक से नवाजा

NIS Digital Team

केजरीवाल महाराष्ट्र में 10 दिनों की विपश्यना के लिए जाएंगे

NIS Digital Team

Leave a Comment