led-bulb.jpg.image.784.410
led-bulb.jpg.image.784.410

भारतीय किसान यूनियन के लखनऊ मण्डल अध्यक्ष ने मांग की है कि विद्युत विनियामक आयोग के द्वारा बिजली की दरों में जो भारी वृद्धि की गई है उसे तत्काल वापस लिया जाए। यदि बढ़ी दरों को तत्काल निरस्त नहीं किया गया तो प्रदेश में एक विशाल आंदोलन खड़ा होगा।

UPPCL
UPPCL

उनका कहना है कि इसी के साथ यह भी बताया जाये कि ऐसा जनविरोधी फैसला किस किसान, किस गांव व शहर के लोगों से बात करके लिया गया है। इस प्रकार के फैसलों से किसानों व आम जनता में भयंकर रोष व्याप्त है।

अगर पावर कार्पोरेशन और विद्युत नियामक आयोग आपस में मिलकर जनता का खून चूसने का फैसला लेते रहेंगे तो उसका नतीजा सरकार को ही भोगना पड़ेगा। यहॉं के इंजीनियर रूपी अध्यक्ष और प्रबन्ध निदेशक तो अपनी मौज मस्ती के लिए बिजली दरों को बढ़ाने की ही जुगाड़ में रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.